धोनी नहीं लेंगे अभी सन्यास, कारण जानकर खुश हो जाएंगे आप

भारतीय कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री ने यह कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम में महेंद्र सिंह धोनी का काफी जरूरत है। उन्हें इंडियन टीम बने रहना चाहिए। वजह ये है कि ऋषव पंत जैसे युवा खिलाड़ी को तैयार करें। कोहली और शास्त्री का यह कहना है की उन्हें कम से कम 2020 तक जरूर टीम में बने रहना चाहिए।

महेंद्र सिंह पर सन्यास का दबाव

महेंद्र सिंह पर सन्यास का दबाव
महेंद्र सिंह धोनी और रविशास्त्री

इंग्लैंड के साथ खेल रहे महेंद्र सिंह धोनी को चोट लग चुकी थी जिसके कारण उनको यह देखा गया कि वो परेशान हैं। सेमीफाइनल में भारतीय क्रिकेट टीम को मिली हार के बाद महेंद्र सिंह धोनी को सबसे ज्यादा निशाना बनाया जा रहा है। जिसके कारण सोशल मीडिया पर महेंद्र सिंह धोनी पर जमकर यह आरोप लगा रहे हैं कि महेंद्र सिंह धोनी ने पूरे विश्व कप के मैचों में अपना प्रदर्शन धीमा रखा है।

महेंद्र सिंह धोनी के रिटायरमेंट पर क्या कह सकता है बीसीसीआई?

महेंद्र सिंह धोनी के रिटायरमेंट पर क्या कह सकता है बीसीसीआई?
 रविशास्त्री और महेंद्र सिंह धोनी

विराट कोहली और रवि शास्त्री का मानें तो महेंद्र सिंह धोनी को वेस्टइंडीज के दौरे से इसलिए नहीं जाएंगे कि उन्हें उंगली में चोट लगी है। और यह खबर बीसीसीआई के सूत्रों से आ रही है कि महेंद्र सिंह धोनी को इंग्लैंड के खिलाफ खेल रहे ग्रुप मैच में लगी थी।
यह भी पढ़ें:

महेंद्र सिंह धोनी मैच को फिनिश करने को लेकर जाने जाते हैं। लेकिन न्यूजीलैंड के खिलाफ खेल रहे भारतीय क्रिकेट टीम में महेंद्र सिंह धोनी रन आउट हो गए जिसके बाद न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम से जीतने का उम्मीद नहीं दिखने लगा।

धोनी रिटायरमेंट नहीं खेल सकते है 2020 तक

धोनी रिटायरमेंट नहीं खेल सकते है 2020 तक
धोनी और शास्त्री

खबरों की मानें तो महेंद्र सिंह धोनी पहले हीं यह कह चुके हैं कि अगले चेन्नई सुपरकिंग्स से मैच खेलेंगे। इससे साफ होता है कि महेंद्र सिंह धोनी अगर क्रिकेट से अलविदा कहते हैं तो सभी फार्मेट से अलविदा कहेंगे न कि सिर्फ किसी खास टीम से बाहर होंगे। वैसे भी अभी महेंद्र सिंह धोनी और बीसीसीआई के प्रमुख बयान आना अभी बाकी है। जिसमे यह कहा जायेगा कि धोनी खेलेंगे या रेस्ट में रहेंगे या रिटायरमेंट लेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *